fbpx

Rudrabhishek Puja

RUDARABHISHEK PUJA

दोस्तों आज हम बात करते हैं|

रुद्राभिषेक पूजा की रुद्राभिषेक पूजा भगवान शिव की पूजा की जाती है|

इसमें भगवान शिव का अभिषेक कच्चे दूध से किया जाता है|

और उससे पहले भगवान गणेश जी की अर्चना की जाती है|

और उसके बाद माता गौरी की पूजा करने के बाद भगवान शिव के 6 गणों की पूजा की जाती है|

गणों में सबसे पहले गणपति भगवान की पूजा होती है|

पूजा करने के बाद पूजा करने वाला अपने अंगों को शुद्ध करता है|

षडङ्ग न्यास

इसको षडङ्ग न्यास कहते हैं| अपने अंगों को शुद्ध करने के बाद पवित्र करने के बाद शिव के अंगों की पूजा होती है |

और पूजा के बाद दूध दही शहद चीनी देसी घी और गंगाजल से भगवान शंकर को स्नान कराया जाता है|

उसके बाद मौली चावल फूल गंगाजल यज्ञोपवीत तिलक फल मिठाई पान के पत्ते सुपारी लौंग इलायची इत्यादि चढ़ाकर धूप दीप दे कर दक्षिणा इत्यादि चढ़ाकर और पुष्पांजलि करने के बाद भोलेनाथ का यजुर्वेद के मंत्रों से पाठ होता है|

जिसको रुद्री पाठ कहते हैं शुक्ल यजुर्वेद के मंत्रों से लिया गया है| यजुर्वेद के मंत्रों में जो शिव के मंत्र हैं उनसे भगवान भोलेनाथ का पाठ होता है|

भगवान शिव को स्नान करवाने के बाद उनको नए वस्त्रों से सजाया जाता है|

और उनके ऊपर अंग वस्त्र डालकर फिर फूल माला डालकर चंदन से लेकर धूप दीप दिखाकर बिल्व पत्र, आक के पत्ते, बांग, धतूरा, कमल के फूल, केसर से और सुगंधित द्रव्य उनके ऊपर चढ़ाए जाते हैं|

फिर जनेऊ डालकर गंगाजल से अभिषेक करके रितु फल , अलग-अलग तरह के फल चढ़ाए जाते हैं|

Rudrabhishek Puja

और फिर भोजन का भोग लगाया जाता है|

भोजन के बाद मीठे का भोग लगाया जाता है|

मीठे में खीर का और कई तरह के स्वादिष्ट अन्य का भोजन का भोग लगाया जाता है|

जब तक ब्राह्मण पाठ करते हैं तब तक श्रृंगी से भोलेनाथ का कच्चे दूध से स्नान कराया जाता है|

पाठ करने के बाद मंत्रोच्चारण करके पुष्पों की अंजली दी जाती है |

और उसके बाद आरती करने के बाद प्रसाद बांटा जाता है|

इस तरह सावन के महीने में शिव की पूजा करनी चाहिए इससे सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं

जय भोलेनाथ जी की |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Post

Pitru Paksha 2022 Shradh datesPitru Paksha 2022 Shradh dates

Pitru Paksha 2022 Shradh dates दोस्तों आज हम बात करेंगे श्राद्ध पक्ष की श्राद्ध जो होते हैं | वह पितरों के निमित्त किए जाते हैं | यह शराब इंग्लिश महीने

गणेश चतुर्थीगणेश चतुर्थी

गणेश चतुर्थी भारतीय कैलेंडर के अनुसार एक बड़ा ही खास त्योहार है गणेश चतुर्थी भारतीय कैलेंडर के अनुसार एक बड़ा ही खास त्योहार है जो पूरे देश में धूमधाम से