fbpx
Vedic Astrology Vastu Festival,Uncategorized Navratare Hindu Samvat King

Navratare Hindu Samvat King

Navratare Chetar Ke, New Hindhu Nav Year Samvat King

Navratri of Chaitra is starting from 2nd April 2022 Saturday and on this day Hindu New Year is also starting and the name of this new year is from Hindu customs it will be a Samvatsar named Nal and Shani will be the king of this Samvat Samvat this year.

Navratare Hindhu Samvat King

Nav Samvat is starting, its guru is the minister and so this new year will be auspicious, the combination of Shani Mars and Rahu Ketu will be very rare, luck will give wealth and profit, on Saturday, this Navratri and Samvat is starting and Shani is the king. Navratra will remain till Sunday, April 10, starting of the new year with Revati Nakshatra and 3 yogas is a very auspicious sign, as well as the date of Navratras has not increased or decreased, the Goddess festival will be for 9 days,

Navratare  Chetar Ke, New Hindhu Nav Year Samvat King
https://vedicastrologyvastu.com/https://vedicastrologyvastu.com/

so Jai Akhand Navratri to happiness and prosperity. After 1563 years, it has become very rare that Mars and Rahu Ketu will remain in their exalted sign at the beginning of the new year and Saturn will itself transit in Capricorn in the new year’s sunrise horoscope.

Navratare Hindu Samvat King

The sum of profit is being formed, due to the effect of this yoga, it is an auspicious sign for the people of Gemini, Libra and Sagittarius and others. There will be a time of big change for the zodiac signs, such a combination of planets is being made after 1563 years, before this planetary position was formed on March 408, the new year will start in Revati Nakshatra and the lord of Revati Nakshatra is Mercury, due to Mercury,

there will be profit in business. Therefore, buying and selling in this area will be auspicious; Mercury, the factor of business, will also remain in this area, so the whole year of transactions and investments will be auspicious.

It will be more auspicious to start new works and this year good plans will be made for the welfare of the people, Shani is the king and the guru is the minister, so the departments that have come to the planets will be with the 5 satellites,

The king of this year is Shani

Navratare Chetar Ke, New Hindhu Nav Year Samvat Kinghttps://vedicastrologyvastu.com/

The minister guru. He is and Durgesh is Mercury, lord of wealth is Shani, lord of juice is Mars and lord of grains is Venus and lord of neer is Saturn and lord of fruits is Mercury and in the new year which has started in 2079, Judge Shani will do justice.

Navratare Hindu Samvat King

चैत्र के नवरात्रि 2 अप्रैल से शुरू हो रहे हैं और इसी दिन हिंदू नव वर्ष भी शुरू हो रहा है और इस नव वर्ष का जो नाम है हिंदू रीति-रिवाजों से वो नल नामक संवत्सर होगा और शनि इस संवत के राजा होंगे संवत इसी साल जो नवसंवत शुरू हो रहा है उसके गुरु मंत्री हैं और इसलिए यह नववर्ष शुभ रहेगा शनि मंगल का संजोग और राहु केतु का अति दुर्लभ योग भाग्य धन और लाभ को देने वाला रहेगा, शनिवार ही यह नवरात्रि और संवत शुरू हो रहा है और

शनि राजा है यह नवरात्रे 10 अप्रैल तक रविवार तक रहेंगे रेवती नक्षत्र और 3 योगो से नववर्ष की शुरुआत होना बहुत शुभ संकेत है साथ ही नवरात्रों की तिथि कोई ज्यादा नहीं हुई और ना कम हुई है देवी पर्व पूरे 9 दिन का रहेगा, इसलिए जय अखंड नवरात्रि सुख समृद्धि को देने वाले हैं 1563 साल बाद संजोग यह अति दुर्लभ हुआ है

इस साल नववर्ष की शुरुआत में मंगल और राहु केतु अपनी उच्च राशि में रहेंगे और शनि खुद ही मकर राशि में संचार करेगा नववर्ष के सूर्योदय की कुंडली में शनि मंगल की युति से धन भाग्य और लाभ का योग बन रहा है इस योग के प्रभाव से मिथुन तुला और धनु राशि वाले लोगों के लिए शुभ संकेत है और

अन्य राशियों वालों के लिए बड़े बदलाव का समय रहेगा ग्रहों का ऐसा संयोग 1563 साल बाद बन रहा है इससे पहले मार्च 408 को यह ग्रह स्थिति बनी थी नव वर्ष रेवती नक्षत्र में शुरू होगा और रेवती नक्षत्र के स्वामी बुध है बुध के कारण कारोबार में फायदा होगा इसलिए इस क्षेत्र में खरीद बिक्री करना शुभ रहेगा व्यापार का कारक बुध भी इस क्षेत्र में रहेगा इसलिए लेनदेन और निवेश का पूरा साल शुभ रहेगा आर्थिक मजबूती और व्यापार को बढ़ाने वाला यह साल रहेगा,

इस बार नववर्ष की शुरुआत मे नवरात्रों में खरीदारी लेनदेन और निवेश के नए कामों की शुरुआत करना ज्यादा शुभ रहेगी और इस साल लोगों के कल्याण के लिए अच्छी योजनाएं बनेगी, शनि राजा है और गुरु मंत्री है इसलिए ग्रहों के पास जो विभाग आए हैं वह 5 उपग्रहों के पास रहेंगे इस वर्ष का राजा शनि है मंत्री गुरु है और है दुर्गेश बुध है

धन का स्वामी शनि है रस का स्वामी मंगल है और अनाज का मालिक शुक्र है और नीर का स्वामी शनि है और फलों का स्वामी बुध है और नव संवत्सर में जो 2079 शुरू हुआ है ,न्यायधीश शनि न्याय करेंगे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Post

Vastu ExpertVastu Expert

वास्तु शास्त्र एक प्राचीन भारतीय विज्ञान है जो घर, आवास, निर्माण, और प्राकृतिक स्थलों के विचार के साथ-साथ उनकी स्थिति और आवास के निर्माण में ऊर्जा के प्रवाह के आधार